"The hardest of all is learning to be a well of affection,and not fountain,to show them that we love them,not when we feel like it,but when they do"

Thursday, November 18, 2010

फ़ना..

This is a feeling of a lover divided in three portions..interlinked with each other but still not in continuation..Is differently written after every line break..But conveying only one feeling from the bottom of the heart and that is love.

अश्क यूँ फना हुए नज़रों से, 
उन्हें उनमें ख़ुशी दिखी |
हम रोए उनकी याद में ,
उन्हें दिलदारी दिखी| 
हम तो न थे ऐसे हमने कहा, 
वो बोले हमारी नहीं है ये खता | 
बेवफ़ा की तरह वो मुडके चल दिए, 
लव्ज़ जो थे होंठो पर सजाए,
वो वहीँ रह गए|
कहने को हम आप से यूँ कहते-- 
की कितना चाहते हैं हम आपको, 
आपके बिन बोले जान निसार करदे आप पर, 
जब चाहे मांग लो |
आप अगर चले जाओ तो कुदरत को छोड़ , 
आसमान में हम साथ देंगे .. 
भगवान भी न रोक पाएगा, 
ऐसा पैगाम देंगे |
दबे हुए हैं ये अलफ़ाज़ सुन सके तो ऐए दीवाने ..
---------------------------------------------------------------
आप चाहते हैं किसी ओर को टूट कर, 
खुश देखना चाहते हैं उससे हरपल |
हमे मालुम है, 
वो है आपकी आँखों की चमक, 
दिल में बसी कसक ..दुल्हन के सर पर सजी कुमकुम जैसी..  
हर धड़कन है आपकी बस उसके नाम से| 
हमने समझा आपको ..वो आपको छोड़के चल दिए 
---------------------------------------------------------------
दिल में कैद कर रखा है ये तूफ़ान जो आपने,
उसमें यूँ न बह जाइए,
उतर जाये अगर ये तूफ़ान तो हम सह लेंगे बिना उफ़ किए |
आप गम्हीन लगते हैं, 
दिल में कैद है आपकी आँखों की वो नमी, 
हम देखते हैं उसे..दुआ करते हैं वो हमे मिल जाए,  
आप कभी न ऐसे सिसके |
मन ही मन में आप बड़ा रोया करते हैं, 
एहसास है हमे की, गम छिपाया करते हैं इन नज़रों तले|
पर आप ये क्यूँ न समझे,
रंग है हज़ार सिर्फ आपसे ..जहाँ का हसीं निहार रहे आपसे..|
क्यूँ न समझे आप हमे दिल तोड़कर चल दिए, 
अश्क बेहते थे जो वो हमारे भी दब्ब गए ||


8 comments:

P-Kay said...

Waah kya baat hei :) Superb. The triology indicates only one thing...that is samarpan to the love...a surrender :) Well written Alcina...its with full of emotions and can feel it.

Alcina said...

Hmm..glad you can feel it :)..

Thanks for the appreciation..

ayushi said...

I'm very touched ... no words to say dear.. u have expressed my feelings in this blog ... God bless u :)

Alcina said...

Thank you.. :)

Glad that you could connect..

take care..
god bless u too..

Maverick said...

हमसे हुए वो ऐसे बेखबर के दिल का दर्द अश्क बनकर बहता रहा
हमारी मोहोब्बत इन्तहा छु गयी, और उन्हें इस बात का गुमान तक न रहा!

luved the composition...da perspectives from which dis intricate emotion is viewed.

if nd wen u hav da time nd inclination take a look at dis. my first attempt at hindi...not as good as urs, bt still it is wat it is.

http://darkrevelry.blogspot.com/2009/03/blog-post.html

tc!

Alcina said...

Very nicely described the whole poem in two lines..
Thank you .. :)


Keep smiling always..!!

abhi said...

हर एक बेहतरीन लिखा हुआ है..
बहुत सुन्दर

Alcina said...

शुक्रिया अभिषेक :)